भोले की दीवानी बन जाउंगी

भोले की दीवानी बन जाउंगी
दीवानी बन जाउंगी मस्तानी बन जाउंगी
भोले की दीवानी बन जाउंगी

जटा जुट पे गंगा बेहती मस्तक चंदा साजे,
शिव शम्भू घट घट के वासी कन कण में विराजे
मस्तानी बन जाऊगी मस्तानी बन जाऊगी
भोले की दीवानी बन जाउंगी

कानो में कुंडल तन मर्ग शाला सुंदर नैन विशाला,
कैलाश पर्वत पे डेरा डाला योगी रूप निराला
अजानी बन जाउगी
भोले की दीवानी बन जाउंगी

कंठ में विष को धरने वाले अमृत करने वाले,
पीवे भर भर भांग के प्याले शम्भू डमरू वाले,
पुरानी बन जाउगी
भोले की दीवानी बन जाउंगी

चकर कमंडल त्रिशूल धरता श्रृष्टि पालन करता,
दुष्टों के भोले संगार करता दुष्टों के है हरता
भगतानी बन जाउंगी
भोले की दीवानी बन जाउंगी

Check Also

दर दर न भटका संवारे

दर दर न भटका संवारे,पार लगा दो नैया मेरी बीच भावर अटकादर दर न भटका …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *